• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Band Kamre

Band Kamre

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 85

Special Price Rs. 76

11%

  • Pages: 85p
  • Year: 1997
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Radhakrishna Prakashan
  • ISBN 13: 817119320x
  •  
    गुरशरण सिंह पंजाबी के प्रसिद्ध नाटककार हो नहीं मशहूर अभिनेता भी हैं । उन्होंने पजाब तथा देश के विभिन्न भागो में अपने नुक्कड़ नाटकों के द्वारा समय-समय पर क्रांतिकारी फिजी तैयार की है । गुरशरण सिंह के नाटको में दमन और शोषण के विरुद्ध खुली क्रांति का आहवान है । वे अपनी रचनाओं में शोषक वर्ग के क्रूर चेहरे का पर्दाफाश करते हैं । अधिकार के लिए लडनेवाले लोग उनके नाटक की दुनिया में प्रमुखता पाते है । अपनी अद्वितीय नुक्कड़ नाट्‌य शैली के द्वारा गुरशरण सिंह ने पूरा आधुनिक नाट्‌य परिदृश्य बदल डाला है । इस संकलन में उनके पाँच प्रसिद्ध नाटक संकलित हें जो उन्होंने पंजाबी की पाँच प्रसिद्ध कहानियों के आधार पर लिखे है तथा जो स्‍वयं हजारों दर्शकों के बीच प्रस्तुत किए हैं । ये नाटक पठनीय तो हैं ही, मंचन की दृष्टि से भी वर्तमान समय में बेहद प्रासंगिक हैं ।

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Tjendr Singh Luthra

    सहारनपुर तथा अमृतसर में रहकर पहले बी.काम. तथा फिर सी.ए. की शिक्षा पायी।

    कविता-कर्म से विद्यार्थी जीवन से ही सम्बद्ध। कविताएँ विभिन्न पत्रिकाओं व समाचारपत्रों, जैसे नई दुनिया, शुक्रवार, अमर उजाला, दैनिक भास्कर, लौ तथा आलोचना में छपती रहीं।

    पेशे से आई.पी.एस. (IPS) सेवा में नियुक्ति; फिलहाल दिल्ली में कार्यरत।

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna

    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144