• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Acharya Ramchandra Shukla Ke Shreshtha Nibandh

Acharya Ramchandra Shukla Ke Shreshtha Nibandh

Availability: Out of stock

Regular Price: Rs. 165

Special Price Rs. 148

10%

  • Pages: 322p
  • Year: 2010
  • Binding:  Paperback
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9788180314940
  •  
    आचार्य रामचन्द्र शुक्ल हिन्दी आलोचना के अधिनायक आचार्य हैं । बीसवीं शताब्दी की आलोचना और साहित्येतिहास लेखन में जितना आचार्य शुक्ल को विभिन्न मत-मतान्तरों के तहत पक्ष-विपक्ष में उद्धृत किया गया है उतना किसी दूसरे आलोचक और इतिहासकार को नहीं 1 शुक्ल जी ने हिन्दी आलोचना और इतिहास को एक जाग्रत सामाजिक-साहित्यिक दिशाबोध प्रदान किया । वे सच्चे अर्थों में एक लोकधर्मी प्रगतिशील आलोचक थे । शुक्ल जी की पहचान एक विचारपरक, दृष्टि- सजग, वैज्ञानिक चेतना सम्पन्न निबन्धकार की है । उनके निबन्धों का वितान व्यापक है । साहित्य, कला, धर्म, भाषा, संस्कृति, राजनीति, अर्थनीति, समाज-चिन्ता, राष्ट्रबोध इत्यादि सभी विषयों पर उन्होंने विचारपूर्ण, अर्थगर्भित निबंधों/लेखों की रचना की है । गद्य विधा में निबन्ध को महत्वपूर्ण विचार विनिमय के एक गम्भीर माध्यम के रूप में स्थापित करने का श्रेय आचार्य शुक्ला को है । शुक्ल जी के द्वारा विविध विषयों पर लिखे श्रेष्ठ साहित्यिक और वैचारिक निबंधों का चयन इस पुस्तक का प्रेय है । संकलित निबंधों में शुक्ल जी के शास्त्र और समाज दोनों का निदर्शन अपने मुकम्मल परिपाक में एक साथ मिलता है ।

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Satyaprakash Mishra

    डॉ. सत्यप्रकाश मिश्र

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna

    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144