• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Antim Dashak Ki Hindi Kavita

Antim Dashak Ki Hindi Kavita

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 400

Special Price Rs. 360

10%

  • Pages: 196p
  • Year: 2013
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9788180317606
  •  
    अंतिम दशक की हिंदी कविता की संवेदना को समझने और जनाने के लिए हमें तत्कालीन परिवेश, विचार, भावबोध आदि की संक्षिप्त जानकारी कर लेना समीचीन होगा ! रचनाकार परिवेश में व्याप्त दुःख दर्द, पीड़ा का अनुभव करता है और यही पीड़ा संस्कारित होकर साहित्य में अभिव्यक्ति होती है ! कभी-कभी रचनाकार अपनी जीवन व्यथा को ही गाथा बनकार प्रस्तुत करता है ! उसे साहित्य-सर्जन के लिए समसामयिक परिस्थितियों का ज्ञान आवश्यक होता है ! संवेदनशील होने के कारण कवि की अनुभूति गहरी एवं पैनी होती है, जिससे कि उसके अन्दर भावों का उद्रेक होता है ! यह उद्रेक भी कवि में विभिन्न परिस्थितियों एवं परिवेश के अंतर्गत अलग-अलग होता है और उसकी संवेदनाएँ भी अलग-अलग होती हैं ! साहित्यकार अपने साहित्य के माध्यम से अतीत एक आधार पर वर्तमान को संवारता है और अभिश्य की दिशा का निर्धारण करता है !

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Ravindranath Mishra

    Ravindranath Mishra

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna
    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144