• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

B. R. Ambedkar : Bhartiya Waltair Evam Marx

B. R. Ambedkar : Bhartiya Waltair Evam Marx

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 450

Special Price Rs. 405

10%

  • Pages: 187
  • Year: 2018, 1st Ed.
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9789386863805
  •  
    डॉ. अम्बेडकर में वाल्तेयर जैसी मेघा, आलोचनात्मक विवेक और साहस था और उन्होंने भी हिन्दू समाज की मानसिक जड़ता को तोड़ने के लिए अदभुद सहस का परिचय दिया | अम्बेडकर ने जड़ता के विरुद्ध संघर्ष किया और उनके नाम से जुड़े राजनीतिक आन्दोलन, सत्ता-केन्द्रित होते हुए भी, प्रायः सभी सामाजिक संघर्षो से कमोबेश जुड़े हुए हैं | मार्क्स, गाँधी और बाबा साहब तीनों ही अपने-अपने ढंग से मनुष्य की आभावग्रस्त स्थितियों से मुक्ति चाहते हैं ! यह मुक्ति काल्पनिक नहीं, वास्तविक है | मार्क्स आर्थिक मुक्ति पर बल देते है, अम्बेडकर साहब सामाजिक मुक्ति पर और गाँधी सत्य और अहिंसा के माध्यम से अपनायी गयी वैयक्तिक मुक्ति पर | तीनों के अलग-अलग विशेष क्षेत्र हैं | लेकिन मानव-जीवन तो एक ही है | ये तीनो और अम्बेडकर के सार्थक निष्कर्षों को सावधानीपूर्वक लागू करने में ही मानव समाज का हित है |

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    P. N. Singh

    डॉ. पी.एन. सिंह

    जन्म : 01 जुलाई 1942, वासुदेवपुर, गाजीपुर, उत्तर प्रदेश

    शिक्षा : एम. ए. (अंग्रेजी), पी-एच.डी.

    गतिविधियाँ : ज्ञानभारती विद्यापीठ, कोलकाता 1964-68, महाराजा वीर विक्रम शासकीय कॉलेज अगरतला 1968-71, स्नातकोत्तर महाविद्यालय गाजीपुर में 1971 से 2002 तक विभागाध्यक्ष अंग्रेजी विभाग ।

    प्रकाशित साहित्य :

    भारतीय वाल्तेयर और मार्क्स: बी.आर. अम्बेडकर, मण्डल आयोग: एक विश्लेषण; नायपॉल का भारत, गॉधी अम्बेडकर लोहिया, उच्चशिक्षा का संकट : समस्या और समाधान के बिन्दु, निष्प्रभ आईना (कविता-संग्रह),

    रामविलास शर्मा और हिन्दी जाति, अम्बेडकर प्रेमचंद और दलित समाज, हिन्दी दलित साहित्य: संवेदना और विमर्श, Society, Culture, Literary Theory and Criticism आदि ।

    उत्तर प्रदेश शासन द्वारा पुरस्कृत :

    गॉधी और उनका वर्धा (2012), कुबेरनाथ राय : साहित्यिक सांस्कृतिक दृष्टि (2012), अम्बेडकर चिंतन और हिंदी दलित साहित्य (2009)

    संपादन :

    कर्मयोगी की अविराम यात्रा, उच्च शिक्षा की चुनौतियाँ, प्रभु नारायण सिह : गाजीपुर की दृष्टि में, बुद्धिधर्मी डॉ. सरजू तिवारी इत्यादि पुस्तकों तथा जून 1989 से ‘समकालीन सोच' पत्रिका का सम्पादन ।

    सम्पर्क सूत्र :

    गौतम बुद्ध कॉलोनी, रोजा शाहजुनैद, मालगोदाम रोड, गाजीपुर-233001

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna
    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144