• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Hindu Muslim Rishton Ke Bahane

Hindu Muslim Rishton Ke Bahane

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 500

Special Price Rs. 450

10%

  • Pages: 231p
  • Year: 2014
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9788180318573
  •  
    ‘हिन्दू-मुस्लिम रिश्तो के बहाने : राही के उपन्यास’ पुस्तक में न सिर्फ हिन्दू-मुस्लमान समबन्ध को गहराई और व्यवस्थित तरीके से विवेचित किया गया है, अपितु हिंदी उपन्यासों में आए ऐसे संबंधो को बहुत सजगता से प्रस्तुत किया गया है ! किताब साज्ञी-संस्कृति के मुखर पैरोकार राही मासूम रजा के उपन्यासों पर आत्मिक तरीके से विवेचन करती है ! राही मासूम रजा के उपन्यास ‘समय’ का दस्तावेज है ! ‘समय’ के इस दस्तावेज में हिन्दू-मुसलमान सम्बन्ध सबसे ज्वलंत पहलू है ! रमाकांत राय की यह किताब राही मासूम रजा के व्यक्तित्व और कृतित्व पर सबसे प्रमाणिक किताब है !

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Ramakant Roy

    डॉ. रमाकांत राय

    जन्म : 23 दिसंबर, 1977 ! उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले के एक छोटे से गाँव-चौरंगीचक में !

    शिक्षा : इलाहबाद विश्वविद्यालय, इलाहबाद से 2009 में डी. फिल. ! प्रारंभिक शिक्षा पश्चिम बंगाल के दक्षिण चौबीस परगना जिले के बिरलापुर में !

    गतिविधियाँ : विविध पत्र-पत्रिकाओं में आलोचनात्मक लेख प्रकाशित ! फिल्म और घुमक्कड़ी का शौक ! ‘मेरा गाँव मेरा देश’ नामक ब्लॉग का संचालन !

    सम्प्रति : सहायक प्रोफेसर, हिंदी, भाऊ राव देवरस राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, टूद्धी, सोनभद्र, उ.प्र.

     

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna
    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144