• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Mahadevi Varma Ke Kavya Mein Saundarya Bhavana

Mahadevi Varma Ke Kavya Mein Saundarya Bhavana

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 500

Special Price Rs. 450

10%

  • Pages: 272p
  • Year: 2013
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9788180318214
  •  
    छायावादी काव्य के विकास में महादेवी वर्मा का योगदान अप्रतिम है ! वे अपने समय के कवियों में एक अलोकिक भावजगत का सृजन कर छायावादी काव्य-धारा को एक नयी सौंदर्य दृष्टि प्रदान करती हैं ! यही कारन है कि उन्हें छायावादी काव्य-धरा में रहस्यवादी भाव-धारा का प्रमुख कवि माना जाता है ! सर्वथा नये उपमान, अमूर्तन, लाक्षणिकता, प्रतीक, बिम्ब उनके काव्य को लालित्य-योजना की दृष्टि से एक ऐसा आयाम प्रदान करते हैं जो छायावादी कवियों में उनकी अपनी अलग पहचान बनाता है ! प्रस्तुत ग्रन्थ में लेखक ने महादेवी वर्मा की सौंदर्य-दृष्टि से बचकर लेखक ने भारतीय और पाश्चात्य सौंदर्य शास्त्र के ज्ञान का गंभीर उपयोग किया है ! यही कारण है कि प्रस्तुत पुस्तक महादेवी वर्मा के काव्य-विवेचन में नयी दृष्टि का समावेश कर सकी है ! शास्त्रीय और समसामयिक काव्यालोचन में प्रस्तुत पुस्तक का सुनिश्चित योगदान है !

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Govind Pal Singh

    गोविन्द पाल सिंह

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna
    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144