• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Usi Ke Naam

Usi Ke Naam

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 300

Special Price Rs. 270

10%

  • Pages: 134
  • Year: 2016, 1st Ed.
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9789352211272
  •  
    खुशफिक्र शाइर आलोक यादव से मेरा तअल्लुक उतना ही पुराना है जितना खुद उनका गजल से ! तकरीबन तीन साल कब्ल गजल से मुताल्लिक बुनियादी मालूमात और मुनासिब मशवरों के लिए उन्हें किसी की तलाश थी ! उनकी यह तलाशो-जुस्तजू हमारे तअल्लुक का सबब बनी ! उनके पास काबिलियत भी है और सलाहियत भी, हस्सास दिल भी है और दुनिया को उसके तमाम रंगों के साथ देखने वाली नजर भी ! उनकी शायरी में खुलूसो-मोहब्बत के जज्बो, समाजी कद्रों, आला उसूलों और इंसानी रिश्तों का एहतराम भी है और जुल्म, जब्र, नाइंसाफी और इस्थ्साल के खिलाफ मोह्ज्जब एहतिजाज भी ! उनके अशआर एक तरफ उर्दू से उनके वालिहाना लगाव का ऐलान करते नजर आते हैं तो दूसरी तरफ हिंदी से उनके मजबूत रिश्ते और गहरी रगबत के गम्माज भी हैं ! अपने शेरी सफ़र के इब्तिदाई दौर ही में अगर कोई इस तरह के चंद अशआर कहने में कामियाब हो जाए तो उसे अपने शेरी मुस्तक्रबिल के ताबनाक होने की उम्मीद बाँधने में झिझक नहीं होती ! हदे-इमकान से आगे मैं जाना चाहता हूँ पर अभी ईमान आधा है, अभी लाग्जिश अधूरी है मेरे लिए हैं मुसबित ये आईनाखाने यहाँ जमीर मेरा बेनकाब रहता है खुदा करे मंजिलों की तरफ उठने वाला उनका पहला कदम ‘उसी के नाम’ खातिख्वाह पजीराई हासिल करे और उनके हौसलों के चराग कभी मद्दम न हों !

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Alok Yadav

    अलोक यादव

    उत्तर प्रदेश के कायमगंज, जिला फर्रुखाबाद में जन्मे आलोक यादव 30 जुलाई, 2016 को अपने जीवन के पचासवें वर्ष में पदार्पण करेंगे | 'उसी के नाम' उनका प्रथम गजल संग्रा है |

    भारत सर्कार के कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त के पद पर आसीन आलोक यादव वर्ष 2014 में 'इंटरनेशनल इन्टेलेक्चुअल पीस अकेडमी' द्वारा डॉ. इकबाल उर्दू एवार्ड एवं 'डॉ. आसिफ बरेलवी अवार्ड' से नवाजे गए हैं | वर्ष 2015 में 'दुष्यंत कुमार सम्मान' मिला एवं 2016 विक्रमशिला हिंदी विद्यापीठ, भागलपुर द्वारा 'विद्या वाचस्पति' की मानद उपाधि दी गई |

    सरिता, गृहशोभा, सखी, अहा | जिंदगी, कादम्बिनी, आधारशिला, उत्तर प्रदेश, नया दौर (उर्दू) आदि पत्रिकाओं तथा दैनिक जागरण, अमर उजाला, इंकलाब (उर्दू), सहारा (उर्दू) आदि समाचार पत्रों में सतत प्रकाशन |

    आकाशवाणी तथा दूरदर्शन के विभिन्न वेबसाइट www.rekhta.org एवं www.kavitakosh.org पर भी गजलें संग्रहीत |

    मोबाइल : 09412736688

    ईमेल : alokyadav1@rediffmail.com

    loading...
      • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
      • Funda An Imprint of Radhakrishna
      • Korak An Imprint of Radhakrishna
    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144